Tuesday, August 13, 2013

चंद रुपए के लिए लाशों संग शर्मनाक सलूक, देखें पुलिस का बेशर्म चेहरा!

शव जिसे हिन्दू धर्म में शिव की संज्ञा दी गयी, इस्लाम में पवित्र माना गया है। वर्दी पहन कर कानून का पालन करने और करवाने के लिए अपनी जान की बाजी लगा देने की कसम खाने वाले पुलिस कर्मी अब इतने बेशर्म हो गए है कि लाशो के दाह संस्कार का भी रुपया हजम कर जा रहे है।

उत्तर प्रदेश के पुलिस का एक और बेशर्म चेहरा उस समय सामने आया जब एक लावारिस लाश को ठिकाने लगाने के लिए बड़ी ही बेहरमी से पत्थर बांधकर गंगा में डूबो दिया गया। पुलिस वालों ने सबसे पहले इस लावारिस लाश को बेहरहमी से कपड़ों में बांध लिया था। रिक्शे वाले की मदद से लाश को गंगा घाट के किनारे तक लाया गया।

मामला कटरा कोतवाली थाने का है, जहां मिली एक लावारिश लाश को पुलिस कर्मियों ने दाह संस्कार के बजाय गंगा नदी में पत्थर बांधकर बहा दिया। इसके लिए मात्र खर्च हुए पचास रुपए। लाश को ठिकाने लगाने वाले सरजू ने बताया अब तक वो लगभग दस से अधिक लाशों को इसी तरह से ठिकाने लगा चुका है। पुलिस वालों को सत्ताईस सौ रुपए दाह संस्कार के लिए मिलता है। पर पुलिस कहती है तुम ले जाकर फेंको जो होगा समझ लेंगे। इस काम में पुलिसकर्मी भी मदद कर देते हैं।

उत्तर प्रदेश पुलिस के दरिंदगी और गुंडई के तमाम मामले सामने आते रहते हैं। पर अब उत्तर प्रदेश की पुलिस बेशर्म भी हो गयी है। इतनी बेशर्म की लावारिस लाश के दाह संस्कार के लिए मिलने वाली रकम भी हजम कर जा रही है। लाश को पत्थर से बांध कर गंगा नदी में बहा दिया जा रहा है। पुलिस कर्मी से जब सवाल किया गया तो वो भागने लगा और बोला केवल ड्यूटी कर रहा था।

0 comments:

Post a Comment